पासपोर्ट के लिए आवेदन करते वक्त सावधानी बरतने की जरूरत


गाजियाबाद :
सामान्य श्रेणी में पासपोर्ट आवेदन की फीस 1500 रुपये के बजाय 4500 रुपये वसूलते हैं. पासपोर्ट बनवाने की आड़ में कई जालसाज गिरोह सक्रिय हैं। जालसाजी से बचने के लिए पासपोर्ट के लिए आवेदन करते वक्त सावधानी बरतने की जरूरत है। दरअसल, जालसाजों ने इंडिया पासपोर्ट, आनलाइन पासपोर्ट इंडिया, पासपोर्ट इंडिया पोर्टल, पासपोर्ट इंडिया, पासपोर्ट सेवा व एप्लाइ पासपोर्ट व इसी तरह से कई फर्जी वेबसाइट बनवा रखी हैं। पासपोर्ट के लिए आवेदन करते वक्त लोग इन वेबसाइट पर जाकर आवेदन करते हैं, तो जालसाज आवेदकों से उनकी पूरी डिटेल ले लते हैं। डिटेल लेकर वह पासपोर्ट के लिए आवेदन तो कर देते हैं लेकिन सामान्य श्रेणी में पासपोर्ट आवेदन की फीस 1500 रुपये के बजाय 4500 रुपये वसूलते हैं। वहीं लागइन आइडी व पासवर्ड भी आवेदकों को नहीं बताते हैं। ऐसे में यदि आवेदकों को अप्वाइंटमेंट री-शेड्यूल करानी होती है तो उन्हें परेशानी होती है। संपर्क करने पर री-शेड्यूल कराने के नाम पर फिर से दो से तीन हजार रुपये वसूलते हैं। पैसे न देने पर यह आवेदकों को काम नहीं करते हैं। 

- बीते एक साल में 112 लोगों के साथ हुई जालसाजी

- जालसाजी का शिकार होने वाले गाजियाबाद व गौतमबुद्धनगर के सबसे ज्यादा

- कुज 112 पीड़ितों में 90 फीसद इन दोनों जिलों के

जिले के चिरंजीव विहार में रहने वाले सुमित कुमार पेशे के साफ्टवेयर इंजीनियर हैं। उन्होंने कुछ दिन पूर्व पासपोर्ट के लिए आवेदन किया था। आनलाइन पासपोर्ट इंडिया वेबसाइट पर जाकर उन्होंने पूरी जानकारी फार्म में भरी व पेज सेव कर दिया। इसके बाद जालसाजों ने लागइन आइडी बनाकर पासपोर्ट के लिए आवेदन कर सुमित कुमार की वेबसाइट पर लिक भेजा व आनलाइन फीस जाम करने के लिए कहा। सामान्य श्रेणी के पासपोर्ट के लिए 1500 रुपये की बजाय 4500 रुपये वसूले।

गौतमबुद्धनगर के सेक्टर-20 की रहने वाली शिखा मल्होत्रा आर्किटेक्ट हैं। कुछ दिन पूर्व उन्होंने पासपोर्ट बनवाने के लिए पासपोर्ट सेवा वेबसाइट पर जाकर आवेदन किया। पूरी जानकारी फार्म के भरने के बाद जालसाजों ने इनसे ऐसे ही ज्यादा रकम वूसली। इसके बाद जिस दिन की अप्वाइंटमेंट शिखा मल्होत्रा को मिली थी, उस दिन उन्हें कुछ जरूरी काम था। ऐसे में उन्होंने दोबारा से वेबसाइट पर जाकर री-शेड्यूल के आवेदन किया। अप्वाइंटमेंट री-शेड्यूल कराने कराने के लिए जालसाजों ने फिर तीन हजार रुपये आनलाइन लिए। बाक्स..

क्षेत्रीय पासपोर्ट अधिकारी सुब्रतो हाजरा ने बताया कि पासपोर्ट के लिए अधिकृत वेबसाइट है। इसके अलावा कोई भी अधिकृत वेबसाइट नहीं है। सभी आवेदक इसी वेबसाइट पर जाकर ही आवेदन करें।