टैनिंग से बचने के लिए कम पैसों में घर पर ही बनाएं नेचुरल सनस्क्रीन, जानें बनाने का तरीका

 क्लू टाइम्स, सुरेन्द्र कुमार गुप्ता। 9837117141

टैनिंग से बचने के लिए कम पैसों में घर पर ही बनाएं नेचुरल सनस्क्रीन, जानें बनाने का तरीका

unsplash

वैसे तो बाजार में कई सारी सनस्क्रीन क्रीम्स मौजूद हैं लेकिन इसमें बहुत सारे केमिकल्स मौजूद होते हैं। इससे चेहरे पर चकत्‍ते, रैश, रेडनेस, पिंपल्‍स आदि समस्‍याऐं होने लगती हैं। ऐसे में आप घर पर ही नेचुरल सनस्क्रीन तैयार कर सकते हैं, जिससे त्वचा को किसी तरह का नुकसान नहीं पहुंचता है और धूप से भी बचाव होता है।

गर्मियां आ चुकी हैं और ऐसे में घर से बाहर निकलते समय सनस्क्रीन लगना बहुत ज़रूरी है। गर्मियों में तेज धूप के कारण त्वचा टैन यानी सांवली पड़ जाती है और धूप से त्वचा का निखार भी चला जाता है। वैसे तो बाजार में कई सारी सनस्क्रीन क्रीम्स मौजूद हैं लेकिन इसमें बहुत सारे केमिकल्स मौजूद होते हैं। इससे चेहरे पर चकत्‍ते, रैश, रेडनेस, पिंपल्‍स आदि समस्‍याऐं होने लगती हैं। ऐसे में आप घर पर ही नेचुरल सनस्क्रीन तैयार कर सकते हैं, जिससे त्वचा को किसी तरह का नुकसान नहीं पहुंचता है और धूप से भी बचाव होता है। आज के इस लेख में हम आपको नेचुरल होममेड सनस्क्रीन बनाने की विधि बताने जा रहे हैं -

होममेड सनस्क्रीन बनाने के लिए सामग्री 

एलोवेरा जैल- 1/2 कप

नारियल का तेल- 1 चम्मच 

पिपरमिंट एसेंशियल ऑयल- 10-12 बूंदें

होममेड सनस्क्रीन बनाने का तरीका 

होममेड सनस्क्रीन को बनाने के लिए सबसे पहले एक बाउल में एलोवेरा जेल लें। 

अब इसमें 1 चम्मच नारियल का तेल डालकर अच्‍छी तरह से मिलाएं। 

इसके बाद इसमें 10-12 बूंदें पिपरमिंट ऑयल की डालें। 

अब इन सभी चीजों को अच्छी तरह मिलाएं और एक गाढ़ा और क्रीमी पेस्ट तैयार कर लें। 

आपका नेचुरल सनस्‍क्रीन तैयार है। 

आप इसे किसी एयर टाइट कंटेनर में स्‍टोर करके रख सकते हैं। 

घर से बाहर निकलने से पहले इस सनस्क्रीन को आप चेहरे, गर्दन और हाथों पर जरूर लगाएं।

होममेड सनस्क्रीन के फायदे 

एलोवेरा जेल में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट होता है और यह यूवी किरणों के प्रभाव से स्किन को बचाता है। इसके साथ ही, इसमें एंटीसेप्टिक गुण होते हैं जो स्किन को डैमेज होने से बचाता है। यह स्किन को कूलिंग इफेक्ट देता है और डेड सेल्स को निकालकर त्वचा की देखभाल करता है। इसके अलावा, पिपरमिंट ऑयल में विटामिन ई, बीटा कैरोटीन और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं जो स्किन को सूरज की किरणों से होने वाले डैमेज से बचाते हैं। वहीं, नारियल तेल में नेचुरल एसपीएफ होता है जो त्वचा को सन डैमेज से बचाता है।