योगी आदित्यनाथ 25 मार्च को लेंगे UP CM पद की शपथ: सूत्र

 



हाइलाइट्स

  • 25 मार्च को योगी शाम 4 बजे यूपी के सीएम पद की शपथ लेंगे
  • मंत्रिमंडल में महिलाओं और युवाओं को खास तवज्जो मिलने की उम्मीद
  • शपथ ग्रहण समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह शामिल होंगे
  • लखनऊ:योगी आदित्यनाथ के शपथ ग्रहण समारोह (yogi adityanath swearing in ceremony) के कार्यक्रम की तारीख आ गई है। शुक्रवार को एएनआई ने एक ट्वीट किया, जिसमें उसने योगी आदित्यनाथ के 25 मार्च को शपथ ग्रहण समारोह का जिक्र किया। उसने अपने ट्वीट में बताया कि योगी शाम 4 बजे यूपी के सीएम पद की शपथ लेंगे।
पांच साल के सफल कार्यकाल के बाद यूपी की सत्ता में वापसी कर पार्टी के लिए 37 साल पुराना मिथक तोड़कर इतिहास रचने वाले सीएम योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में भाजपा सरकार का दूसरा शपथ ग्रहण समारोह 25 मार्च को शहीद पथ स्थित इकाना स्टेडियम में होगा। शपथ ग्रहण समारोह में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ अन्य मंत्री भी शपथ लेंगे। मंत्रिमंडल में महिलाओं और युवाओं को खास तवज्जो मिलेगी। शपथ ग्रहण समारोह दोपहर बाद आयोजित होगा।
विश्वस्त सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक शपथ ग्रहण समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा सहित केंद्र सरकार के कई मंत्री, भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्री, संघ और भाजपा के वरिष्ठ पदाधिकारी शामिल होंगे। इकाना स्टेडियम में प्रस्तावित शपथ ग्रहण समारोह की तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। मंत्रिमंडल के स्वरूप को लेकर योगी की पार्टी नेतृत्व के साथ मन्त्रणा हो चुकी है। यूपी में सरकार गठन को लेकर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास को क्रमशः पर्यवेक्षक व सह पर्यवेक्षक बनाया गया। शपथ लेने वाले मंत्रियों की सूची को मुख्यमंत्री के गोरखपुर से लखनऊ पहुंचने पर अंतिम रूप दे दिया जाएगा।
योगी मंत्रिमंडल के शपथ ग्रहण समारोह में बसपा सुप्रीमो मायावती, सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव, कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी, महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा सहित विपक्षी दलों के नेताओं को भी आमंत्रित किया जाएगा। इसके साथ ही केंद्र और प्रदेश सरकार की योजनाओं के लाभार्थियों को भी आमंत्रित किया जाएगा। इन लाभार्थियों में महिलाओं की भी पर्याप्त भागीदारी होगी।