मोदीनगर से सपा-रालोद गठबंधन के प्रत्याशी सुदेश शर्मा सहित 27 के शस्त्र लाइसेंस निरस्त: ऋतु सुहास, अपर जिलाधिकारी, प्रशासन

 चुनाव को शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराने के लिए शस्त्र लाइसेंस और जिलाबदर की कार्रवाई की गई है। जिला बदर किए गए लोग यदि जिले में मिले तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

- ऋतु सुहास, अपर जिलाधिकारी, प्रशासन

सपा-रालोद प्रत्याशी सुदेश शर्मा सहित 27 के शस्त्र लाइसेंस निरस्त

गाजियाबादजिला प्रशासन ने सख्ती करते हुए मोदीनगर से सपा-रालोद गठबंधन के प्रत्याशी सुदेश शर्मा सहित 27 के शस्त्र लाइसेंस निरस्त कर दिए हैं। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 के पहले चरण में गाजियाबाद में 10 फरवरी को मतदान है। इसके अलावा आपराधिक छवि के 23 लोगों को जिलाबदर किया गया है। अपर जिलाधिकारी प्रशासन ऋतु सुहास ने बताया कि चुनाव के मद्देनजर कई ऐसे असलहाधारकों को चिह्नित किया गया, जो कि चुनाव को प्रभावित कर सकते हैं। इसी कड़ी में जनवरी माह में 27 असलहाधारियों के शस्त्र लाइसेंस निरस्त किए गए हैं। इन लोगों के शस्त्र लाइसेंस हुए निरस्त: मोदीनगर से सपा-रालोद गठबंधन प्रत्याशी सुदेश शर्मा, राजकुमार त्यागी, महताब कुरैशी, अमित, मदनपाल त्यागी, मुकेश त्यागी, सुंदर यादव, विनोद यादव, सतपाल, करम इलाही, श्रीकेश प्रधान, खुर्रम खान, यशपाल सिंह, कपिल नेहरा, नसीम चौधरी, आदेश कुमार, धनमित राठी उर्फ धन्नी, सुनील पायल, नाहर सिंह, जुल्फिकार अली, ओमवीर धामा, कृष्णपाल, वासिद अली, शाहिद खान के शस्त्र लाइसेंस निरस्त किए गए हैं। 23 को किया गया जिलाबदर: मोदीनगर थानाक्षेत्र के सचिन, मसूरी के मुजम्मिल, मुकम्मिल, आदिल, लोनी बार्डर के प्रिस, नकुल, चंदन कुमार, भोजपुर के सुनील पायल, मसूरी के मनोज, ट्रानिका सिटी के मनीष उर्फ पंडित, टीला मोड़ के सौरभ, लोनी के कपिल, ट्रानिका सिटी के हैदर अली, निवाड़ी के सुनील, टीला मोड़ के इलियास, इमरान, मुस्तकीम उर्फ मुग्गी, भोजपुर के अमीरुद्दीन उर्फ पंडित, साहिबाबाद के हैप्पी, निवाड़ी के फारुख, राज उर्फ भूरे, साहिबाबाद के हैप्पी और मुरादनगर के बिन्दर को जिलाबदर किया गया है।