बाराबंकी में प्रशासन की बड़ी कार्रवाई, सपा विधायक के भतीजे सहित सात गैंगस्टर की करोड़ों की संपत्ति जब्त

रानीगंज कांड के आरोपित शराब माफिया की 1.35 करोड़ की संपत्ति फिर हुई जब्त।

बाराबंकी। जिला प्रशासन और पुलिस ने अर्द्धसैनिक बल की मौजूदगी में सपा विधायक के भतीजे, खनन माफिया, बहराइच के शराब माफिया सहित सात आरोपितों की गैंगस्टर एक्ट 14 (1) के तहत पांच करोड़ 44 लाख की संपत्ति जब्त की है। इनमें अधिकांश लक्जरी वाहन और जेसीबी आदि शामिल हैं। रानीगंज कांड के आरोपित दानवीर सिंह की दस दिन पहले भी प्रशासन ने सवा दो करोड़ की संपत्ति जब्त की थी। वहीं, मादक पदार्थ तस्कर की 9.15 करोड़ की संपत्ति जब्त की जा चुकी है।

कोतवाली नगर के भुहेरा गांव में रहने वाले खनन माफिया विनोद यादव के खिलाफ सतरिख पुलिस ने आठ अक्टूबर 2020 को गैंगस्टर का मुकदमा लिखा था। इसमें गिरोह के सरगना विनोद यादव सहित कुल आठ लोग शामिल थे। इसमें सपा विधायक धर्मराज उर्फ सुरेश यादव के भाई कोतवाली नगर के मकदूमपुर निवासी धर्मेंद्र यादव का पुत्र अर्जुन यादव, विनोद का भाई राजकुमार, सतरिख के संदौली उमरपुर का उमेश यादव, कोठी के महरूपुर का पंकज वर्मा, दीपक, सतरिख के नरायनपुर का पंकज यादव और भुहेरा का अवधराम शामिल है। गैंगस्टर 14 (1) के तहत पुलिस ने गैंग के सदस्याें की वह संपत्ति चिन्हित की जो आपराधिक गतिविधियों के जरिये कमाए गए धन से खरीद गई थी। पुलिस ने आरोपितों के घर जाकर नोटिस चस्पा की और कार्रवाई करते हुए मुनादी कराई।jagran

यह जब्त की गई संपत्ति : विनोद यादव का मकान, चार डंपर व एक जेसीबी जब्त की गई है, जिसकी कीमत एक करोड़ 79 लाख 83 हजार 74 रुपये है। सपा विधायक के भतीजे अर्जुन यादव की बीएमडब्ल्यू, आडी, हेक्टर डीआइ व हांडा जैसी लग्जरी कार सहित एक डंपर जब्त किया गया है। इसकी कीमत एक करोड 43 लाख 33 हजार 767 रुपये है। पंकज का एक डंपर, जेसीबी और एक स्कार्पियो कार जिसकी कीमत 62 लाख 74 हजार 74 रुपये और दीपक कुमार का एक डंपर जिसकी कीमत 22 लाख 55 हजार 74 रुपये है।