महाराष्ट्र में बेकाबू हुआ कोरोना, 9170 नए मामले, अकेले मुंबई में 6347 केस, 6 ओमीक्रोन से संक्रमित

महाराष्ट्र में बेकाबू हुआ कोरोना, 9170 नए मामले, अकेले मुंबई में 6347 केस, 6 ओमीक्रोन से संक्रमित

शुक्रवार को महाराष्ट्र में कोरोनावायरस के 8067 नए मामले आए थे। वहीं मुंबई में 5631 नए मामले आए थे। मुंबई के 10 इलाके कंटेनमेंट जोन घोषित हो चुके हैं जबकि 157 बिल्डिंगों को सील किया जा चुका है। खबर यह भी है कि महाराष्ट्र के मंत्री के साथ-साथ कई विधायक कोरोनावायरस से संक्रमित हुए हैं।

महाराष्ट्र में कोरोनावायरस बड़ी तेजी से फैल रहा है। पिछले 24 घंटे में वहां 9170 नए मामले आए हैं जबकि 7 लोगों की मौत हुई है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक छह ओमीक्रोन केस भी आए हैं। इसके साथ ही ओमीक्रोन का पूरा मामला 460 पहुंच गया है। इसके साथ ही माया नगरी मुंबई में भी कोरोना महामारी के सारे रिकॉर्ड टूटटे जा रहे हैं। पिछले 24 घंटों में देखें तो अकेले मुंबई में कोरोनावायरस के 6347 नए मामले आए हैं। मामलों में वृद्धि को देखते हुए प्रशासन में चिंता बढ़ गई है। महाराष्ट्र के कई मंत्रियों ने यह कहा है कि अब वक्त आ गया है कि लॉकडाउन पर विचार किया जा सके।

शुक्रवार को महाराष्ट्र में कोरोनावायरस के 8067 नए मामले आए थे। वहीं मुंबई में 5631 नए मामले आए थे। मुंबई के 10 इलाके कंटेनमेंट जोन घोषित हो चुके हैं जबकि 157 बिल्डिंगों को सील किया जा चुका है। खबर यह भी है कि महाराष्ट्र के मंत्री के साथ-साथ कई विधायक कोरोनावायरस से संक्रमित हुए हैं। कोरोनावायरस के मामलों में बढ़ोतरी को देखते हुए कई तरह की पाबंदियां जरूर लगाई गई है लेकिन नए साल के अवसर पर कई जगह भीड़ भाड़ देखने को मिली।

इससे पहले महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री अजित पवार ने बताया कि अबतक राज्य के 10 से अधिक मंत्री और कम से कम 20 विधायक कोरोना वायरस से संक्रमित हुए हैं। पवार ने कहा कि हमने विधानमंडल का सत्र छोटा किया। अबतक 10 से अधिक मंत्री और 20 से ज्यादा विधायक कोरोना वायरस से संक्रमित हुए हैं। सभी नववर्ष, जन्मदिन और अन्य कार्यक्रमों के उत्सव में शामिल होना चाहते हैं, यह बात ध्यान रखें कि वायरस का नया स्वरूप (ओमीक्रोन) तेजी से फैल रहा है, इसलिए सतर्क रहने की जरूरत है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपील की है और कुछ राज्यों ने रात का कर्फ्यू लागू करने की घोषणा की है। महाराष्ट्र के मुंबई और पुणे में मामले बढ़ रहे हैं।