कैंब्रिज विश्वविद्यालय की चेतावनी, भारत में कुछ दिनों में हो सकती है कोरोना के मामलों की विस्फोटक वृद्धि

कैंब्रिज विश्वविद्यालय की चेतावनी, भारत में कुछ दिनों में हो सकती है कोरोना के मामलों की विस्फोटक वृद्धि

कोविड -19 इंडिया ट्रैकर विकसित करने वाले कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय के प्रोफेसर पॉल कट्टूमन ने ईमेल के जरिये ये कहा है कि इस बात की संभावना है कि भारत रोज के मामलों में विस्फोटक वृद्धि की अवधि देखेगा।

भारत में कुछ दिनों के भीतर कोविड -19 की वृद्धि दर में तेजी देख सकता है और एक तीव्र लेकिन अल्पकालिक वायरस की लहर में प्रवेश कर सकता है क्योंकि अत्यधिक संक्रामक ओमिक्रॉन वैरिएंट का फैलाव यहां देखने को मिल रहा है। कोविड -19 इंडिया ट्रैकर विकसित करने वाले कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय के प्रोफेसर पॉल कट्टूमन ने ईमेल के जरिये ये कहा है कि इस बात की संभावना है कि भारत रोज के मामलों में विस्फोटक वृद्धि की अवधि देखेगा हालांकि यह दौर कम समय में ही खत्म भी हो जाएगा। कुछ दिनों में, संभवतः इस सप्ताह के भीतर नए संक्रमण बढ़ने लगेंगे, ”उन्होंने कहा कि यह अनुमान लगाना कठिन था कि दैनिक मामले कितने अधिक हो सकते हैं।

11 राज्यों में फैला

कट्टूमन और उनके शोधकर्ताओं की टीम, इंडिया कोविड ट्रैकर के डेवलपर्स, पूरे भारत में संक्रमण दर में तेज वृद्धि देख रहे हैं। ट्रैकर ने 24 दिसंबर के नोट में छह राज्यों को "महत्वपूर्ण चिंता" के रूप में देखा, जिसमें नए मामलों की समायोजित वृद्धि दर 5% से अधिक थी।  ट्रैकर के अनुसार, यह 26 दिसंबर तक 11 भारतीय राज्यों में फैल गया था।

ओमीक्रोन के 781 मामले 

 भारत में अभी तक कोरोना वायरस के नए स्वरूप ‘ओमीक्रोन’ के 781 मामले सामने आ चुके हैं, जिनमें से 241 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं या अन्य स्थानों पर चले गए। ये मामले 21 राज्यों तथा केन्द्र शासित प्रदेशों में सामने आए। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को बताया कि दिल्ली में ‘ओमीक्रोन’ स्वरूप के सबसे अधिक 238 मामले, महाराष्ट्र में 167, गुजरात में 73, केरल में 65 और तेलंगाना में 62 मामले सामने आए हैं। मंत्रालय की ओर से सुबह आठ बजे जारी किए गए अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, भारत में एक दिन में कोविड-19 के 9,195 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3,48,08,886 हो गई। वहीं, उपचाराधीन मरीजों की संख्या बढ़कर 77,002 हो गई।