नसीरुद्दीन शाह के बयान की पड़ोसी मुल्क में हो रही खूब चर्चा, अभिनेता के बहाने मोदी सरकार पर निशाना साध रहे पाकिस्तानी

नसीरुद्दीन शाह के बयान की पड़ोसी मुल्क में हो रही खूब चर्चा, अभिनेता के बहाने मोदी सरकार पर निशाना साध रहे पाकिस्तानी

नसीरुद्दीन शाह के बयान को पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान ने हाथों-हाथ लिया है। पाकिस्तान के सरकारी ब्रॉडकास्टर रेडियो ने भारत सरकार को फासीवादी बताया तो वहीं पीटीवी न्यूज ने भी भारतीय अभिनेता के बयान को लेकर कई ट्विट किए हैं।

नसीरुद्दीन शाह अपने बयान को लेकर एक बार फिर सुर्खियों में हैं। द वायर को दिए एक इंटरव्यू में उन्होंने मुगलों को रिफ्यूजी बताने के साथ ही धर्म संसद को लेकर बोलते-बोलते देश में गृह युद्ध की बात तक कह डाली। नसीरुद्दीन शाह के बयान को पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान ने हाथों-हाथ लिया है। पाकिस्तान के सरकारी ब्रॉडकास्टर रेडियो ने भारत सरकार को फासीवादी बताया तो वहीं पीटीवी न्यूज ने भी भारतीय अभिनेता के बयान को लेकर कई ट्विट किए हैं।

नसीरुद्दीन शाह ने क्या कहा

नसीरुद्दीन शाह ने अपने इंटरव्यू में मुगलों की बात करते हुए कहा कि लोग भूल जाते हैं कि वो मुगल ही थे जिन्होंने बहुत सारे योगदान दिया। मुगलों ने यहां स्मारक, कल्चर, डांस, पेटिंग, साहित्य समेत बहुत सी चीजें दी। नसीर ने मुगलों को रिफ्यूजी कहा। इसके साथ ही उन्होंने जल्द ही देश में गृह युद्ध होने की भी आशंका जताई। हरिद्वार धर्म संसद में मुसलमानों के खिलाफ उकसाऊ भाषण के मामले में अपनी बातें कहते हुए उन्होंने कहा कि अगर उन्हें पता है कि वे किस बारे में बात कर रहे हैं, तो मैं हैरान हूं। वो एक गृह युद्ध की अपील कर रहे हैं। हम 20 करोड़ लोग इतनी आसानी से खत्म होने वाले नहीं हैं। हम 20 करोड़ लोग हैं लड़ेंगे।

पाकिस्तान में खूब चर्चा 

उनके इसी बयान को लेकर सोशल मीडिया पर जनता भड़की दिखी। लेकिन पड़ोसी देश पाकिस्तान ने नसीरुद्दीन शाह के बयान को हाथों-हाथ लिया।  पाकिस्तान के सरकारी ब्रॉडकास्टर रेडियो पाकिस्तान ने फिल्म अभिनेता शाह के बयान पर कहा कि भारत की मोदी सरकार फासीवादी है। रेडियो पाकिस्तान के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से लिखा गया है कि प्रसिद्ध भारतीय अभिनेता नसीरुद्दीन शाह ने फासीवादी मोदी के नेतृत्व वाली सरकार से मुसलमानों के नरसंहार को रोकने के लिए कहा है और चेतावनी दी है। इसके साथ ही पीटीवी न्यूज ने लिखा, 'जाने-माने पत्रकार करन थापर के साथ एक इंटरव्यू में भारतीय अभिनेता नसीरुद्दीन शाह ने कहा कि "भारत में मुसलमानों को दोयम दर्जे का नागरिक बनाया जा रहा है" और यह हर क्षेत्र में हो रहा है।