अपनी बातों में उलझाकर लोगों को रकम दोगुनी करने का प्रलोभन, दो ठगों को गिरफ्तार कर लिया


रुपये दोगुने करने के नाम पर ठगी करने वाले दो दबोचे
मोदीनगर भोजपुर थाना प्रभारी मुन्नेश कुमार ने बताया कि गिरफ्तार आरोपित अलीगढ़ के संजय नगर स्थित थाना गांधी पार्क के विनोद व चेताराम हैं। आरोपित शातिर प्रवृत्ति के बदमाश है। अपनी बातों में उलझाकर वे लोगों को रकम दोगुनी करने का प्रलोभन देते। रुपये दोगुने के लिए तीन से चार दिन का समय मांगते। इसके बाद कागज में लपेटकर उन्हें फर्जी नोट देकर ठगी करते। भोजपुर पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर रविवार रात दो ठगों को गिरफ्तार कर लिया। आरोपित रुपये दोगुने करने के नाम पर लोगों को फर्जी नोट थमा देते थे। काफी समय से इस गोरखधंधे में आरोपित शामिल चल रहे थे। उनकी निशानदेही पर दो हजार के फर्जी नोट की पांच गड्डी, 500 के नोट की बीस तथा 100 के नोट की दस गड्डियां बरामद हुई हैं। पुलिस ने दोनों आरोपितों को जेल भेज दिया है। अब तक कई लोगों को ये अपना शिकार बना चुके हैं। पूछताछ में आरोपितों ने पुलिस को बताया कि वे पहले व्यक्ति की रेकी करते थे। इसके बाद मौका मिलते ही युवक को अपनी बातों में फंसाकर रुपये ठग लेते थे। रविवार रात भी आरोपित एक युवक को गुमराह कर रुपये ठगने की फिराक में थे। लेकिन, मुखबिर से सूचना मिलते ही तुरंत टीम वहां पहुंची और आरोपितों को पकड़कर थाने ले आई। तीन दिन पहले ईशाकनगर में युवक से ठगे थे 25 हजार - तीन दिन पहले बुलंदशहर के नरौरा में रहने वाले जयरामदास मेरठ से हापुड़ जा रहे थे। इस बीच भोजपुर के गांव ईशाकनगर में पहुंचने पर उन्हें इन्हीं आरोपितों ने रोक लिया था। रुपयों की गड्डी दिखाते हुए उन्हें गुमराह किया। बाद में उन्हें 25 हजार के बदले 50 हजार देने का आफर दिया। इसके बाद आरोपितों ने उनसे 25 हजार रुपये ले गए। थोड़ी ही देर में वापस आकर उन्हें नोट की गड्डी थमा दी। पीछे पुलिस आने की बात कहकर वे वहां से भाग गए। थोड़ी देर बाद जब जयरामदास ने गड़्डी खोली तो पता चला कि उसमें तो फर्जी नोट लगे हुए हैं। उनकी तहरीर पर मुकदमा दर्ज हुआ था।