राकेश टिकैत ने क्यों कहा, उत्तर प्रदेश में भाजपा ही जीतेगी विधानसभा का चुनाव

राकेश टिकैत ने क्यों कहा, उत्तर प्रदेश में भाजपा ही जीतेगी विधानसभा का चुनाव

नई दिल्ली. किसान आंदोलन आने वाले दिनों में भी जारी रह सकता है और इसमें और तेजी आ सकती है। संयुक्त किसान मोर्चा के नेता राकेश टिकैत ने यह बात कही है। इसके अलावा उत्तर प्रदेश चुनाव को लेकर भी राकेश टिकैत ने एबीपी न्यूज चैनल से बातचीत में कहा कि यहां जनता भाजपा को वोट नहीं देगी, लेकिन जीत उसकी ही होगी। राकेश टिकैत ने कहा कि इसकी वजह सरकारी मशीनरी का गलत इस्तेमाल होगा। उन्होंने कहा कि भाजपा दूसरे दलों के  प्रत्याशियों को पर्चा दाखिल करने से रोकेगी और उनका नामांकन खारिज करा देगी। भाजपा जहां भी जाती है, वहां लोगों को तोड़ने का काम करती है। 

इसके साथ ही किसान नेता ने दिवाली के मौके पर भी दिल्ली की सीमाओं पर डटे रहने की बात कही है। राकेश टिकैत ने कहा कि हम दिवाली के मौके पर भी बॉर्डर पर रहेंगे और यहीं दीये जलाएंगे। टिकैत ने कहा कि यदि बॉर्डर खुलते हैं तो फिर हम भी दिल्ली की ओर जाएंगे। उन्होंने कहा कि मंडियां बंद हो गई हैं। ऐसे में हम सही दाम पर संसद में ही अपनी फसलों को बेचने की कोशिश करेंगे। सीमाओं को खोला जाएगा तो फिर सबसे पहले किसानों के ट्रैक्टर दिल्ली की ओर रवाना होंगे। राकेश टिकैत ने कहा कि सरकार ने किसानों से बातचीत के लिए कोई पहल नहीं की है। इतिहास में यह याद रखा जाएगा कि एक सरकार ऐसी भी थी, जिसने एक साल तक चले आंदोलन के बाद भी बात नहीं की।

भाजपा ने तोड़ा मुलायम, लालू और ओमप्रकाश चौटाला का परिवार

इसके साथ ही भाजपा पर तीखा हमला बोलते हुए राकेश टिकैत ने कहा कि यह पार्टी जहां भी जाती है, वहां लोगों को तोड़ने का काम करती है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने यूपी में मुलायम सिंह यादव, बिहार में लालू यादव और हरियाणा में ओमप्रकाश चौटाला के परिवार को तोड़ा है। राकेश टिकैत ने एक बार फिर जोकर देकर कहा कि हम कानून वापसी के साथ ही घर वापसी करेंगे। उससे पहले हम घर नहीं लौटेंगे। सरकार से बातचीत को लेकर टिकैत ने कहा कि हमें 22 जनवरी के बाद से बातचीत का कोई न्योता नहीं मिला है। उन्होंने कहा कि 26 नवंबर को हमारे आंदोलन को एक साल पूरा हो जाएगा। राकेश टिकैत ने कहा कि यदि सरकार बता दे कि हमें बातचीत नहीं करनी है तो फिर हम अपने टेंटों को फिर से मजबूत करें और यहीं डटे रहें।